आतंकी सूची से हटा टीएलपी मुखिया साद रिजवी का नाम, सौ से ज्यादा जघन्य मामलों में रहा है शामिल

लाहौर,प्रेट्र।पाकिस्तानमेंपंजाबकीसरकारनेकट्टरपंथीसंगठनतहरीक-ए-लब्बैकपाकिस्तान(टीएलपी)केमुखियासादरिजवीकानामआतंकियोंकीसूचीसेहटादियाहै।रिजवीकोअप्रैलमेंगिरफ्तारकियागयाथा।जल्दहीउसकीकोटलखपतजेलसेरिहाईहोजाएगी।टीएलपीकेअक्टूबरमेंहुएहिंसकआंदोलनमेंरिजवीकीरिहाईभीप्रमुखमांगथी।बादमेंइमरानसरकारनेसैकड़ोंलोगोंकीमौतकेलिएजिम्मेदारप्रतिबंधितसंगठनसेगुप्तसमझौताकिया।

पंजाबसरकारनेअधिसूचनाजारीकररिजवीकोएंटीटेरेरिज्मएक्ट1997सेमुक्तकिएजानेकीघोषणाकीहै।पंजाबसरकारकेएकविश्वसनीयसूत्रकेअनुसाररिजवीपरआतंकवाद,हत्या,हत्याकेप्रयास,लोगोंकोभड़कानेऔरअन्यजघन्यअपराधोंके100सेज्यादामामलेदर्जहैं।उसकेनेतृत्वमेंहुएहिंसकआंदोलनोंऔरहमलोंमेंदर्जनोंपुलिसवालेमारेजाचुकेहैं,बावजूदइसकेसरकारनेकिसआधारपरउसेआतंकीसूचीसेबाहरकियाहैयहबातस्पष्टनहींकीगईहै।

दोहजारसेज्यादाटीएलपीकार्यकर्ताकिएगएरिहा

मुस्लिमविद्वानोंकीमध्यस्थतामेंइमरानसरकारऔरटीएलपीकेबीचहुएसमझौतेमेंटीएलपीपरसेप्रतिबंधहटायागयाहै,उसकेदोहजारसेज्यादाकार्यकर्ताजेलसेरिहाकिएगएहैंऔरअबसादरिजवीकानामआतंकीसूचीसेहटायागयाहै।विरोधियोंकेअनुसारइमराननेकट्टरपंथीसंगठनकेआगेघुटनेटेकदिएहैं।इससमझौतेकेबादटीएलपीनेभीअपनाआंदोलनवापसलेलियाहै।

मानाजारहाहैकिआनेवालेदिनोंमेंटीएलपीएकराजनीतिकदलकेरूपमेंकार्यकरेगाऔरअबउसेचुनावोंसेबाहररखनेकाकोईकारणनहींबचाहै।मामलेकारोचकतथ्ययहहैकिइमरानसरकारकेसाथहुएगोपनीयसमझौतेसेकुछरोजपहलेहीकेंद्रीयकैबिनेटनेटीएलपीकोअतिवादीसंगठनबतातेहुएउसेकुचलदेनेकीबातकहीथी।