आरजेडी और जेडीयू में दलित नेताओं को लेकर छिड़ा घमासान, दोनों खुद को बता रहे हैं अल्पसंख्यकों का मसीहा

पटना:सालकेअंतमेंबिहारविधानसभाचुनावप्रस्तवितहै.चुनावसेपहलेबिहारकीदोबड़ीपार्टीजेडीयूऔरआरजेडीकेबीचदलितनेताओंकोलेकरघमासानछिड़ाहुआहै.दोनोंहीपार्टीखुदकोअल्पसंख्यकोंकामसीहाबतारहीहै.इसीक्रममेंगुरुवारकोआरजेडीप्रदेशकार्यालयमेंआरजेडीकेदलितविधायकोंकाप्रेसकॉन्फ्रेंसआयोजितकियागया,जिसमेंश्यामरजक,उदयनारायणचौधरी,रमईरामसमेतअन्यनेताशामिलहुए.

पीसीकेदौरानउदयनारायणचौधरीनेकहा,"डबलइंजनकीसरकारमेंदलित-पिछड़ोंपरसबसेज्यादाअत्याचारहुआहै.इससरकारमेंदलितऔरआदिवासीछात्रोंकीछात्रवृत्तिबंदकरदीगई.इससमाजकेसरकारीनौकरियोंमेंबैकलॉगकेपदकोनहींभरागया.बिहारमेंट्रैपकेसमेंदलितऔरआदिवासीकोपकड़ागयाहै.167दलितआदिवासियोंकोअधिकारियोंऔरपाधिकारियोकोट्रैपमेंपकड़ागया.बिहारमेंशराबबंदीकानूनकेतहत70हजारदलितोंपरकेसदर्जहुआ."

इधर,पीसीकेदौरानरमईरामनेकहा,"नीतीशसरकारनेदलितोंकादलितऔरमहादलितकेरूपमेंबंटवाराकियाजोकिसीसरकारनेनहींकिया.नीतीशसरकारमेंदलितोंकोजमीननहींदीजाहै.मैंनीतीशकुमारकोचैलेंजकरताहूं,दलितोंकोदीगईजमीनपरउनकाकब्जानहींहै,अगरसरकारकब्जादिखादेतीहैतोमुझेफांसीदेदियाजाए."

इधर,हालहीमेंजेडीयूछोड़आरजेडीमेंशामिलहुएपूर्वमंत्रीश्यामरजकनेकहा,"नीतीशसरकारमेंदलितोंपरअत्याचारकाआंकड़ाबढ़गयाहै.2005मेंयह7%थाअबवहबढ़कर17%होगयाहै.बिहारदलितोंकेअत्याचारमामलेमेंतीसरेस्थानपरहै.मैंजोआंकड़ादेरहाहूंवहभारतसरकारकाआंकड़ाहै."

उन्होंनेकहा,"आरक्षणमेंप्रोन्नतिकामामला11सालसेलंबितहै.नईशिक्षानीतिकेतहतदलितऔरवंचितशिक्षकनहींबनपाएंगेक्योंकिशिक्षणसंस्थाननिजीहाथोंमेंजारहेहैं."बिहारसरकारकेनौकरियोंमेंबैकलॉगपरश्यामरजकनेकहा,"सरकारकॉन्ट्रैक्टकेआधारपरकामलेनेकाकामकररहीहै.आरक्षितपदोंकोभीकॉन्ट्रैक्टकेआधारपरकामलेकरभरनेकाकामकररहीहै.बिहारकेबजटकामात्र11%हीखर्चहुआहै."

उन्होंनेकहा,"बिहारमेंअधिकारियोंकेबीचपैसोंकाबंदरबांटहोरहाहै.बिहारपब्लिकसर्विसकमीशनकेपुलिसचयनआयोगमेंकोईभीसदस्यअनुसूचितजातिजनजातिकानहींहै."

इसदौरानआरजेडीविधायकशिवचंद्ररामनेकहा,"बिहारसरकारनेगरीबऔरएससी-एसटीवर्गकेलोगोंपरकुठाराघातकियाहै.बिहारमेंअनुसूचितजाति-जनजातिकेलोगोंकोमंदिरनहींजानेदियाजारहाहै.केंद्रऔरराज्यदोनोंसरकारमिलकरआरक्षणकोखत्मकरनेकीकोशिशकररहीहै.आरक्षणसेजुड़ेहुएजोभीबिंदुहैंउसेसंविधानके9वींसूचीमेंशामिलकिया.महादलितआयोगकागठनकियागया,लेकिनउसकेसदस्यऔरअध्यक्षकौनहैं?

उन्होंनेकहा,"बीपीएससीमेंएससी-एसटीकाकोईसदस्यनहींहै.सदस्यबनानेकोलेकरहमने2016सेमांगकीहै.एससी-एसटीकेनामपरयोजनाजरूरबनतीहैं,मगरउन्हेंफायदानहींमिलताहै."नीतीशसरकारसेशिवचंद्ररामनेपूछा,"सभीसरकारीविभागोंमेंएससी-एसटीकेलिएकल्याणकारीकार्यकेलिए20%अतिरिक्तफंडआताहै.जबसेआपकीसरकारआईहैतबसेअपनेफंडसेकितनाखर्चकियाहै?"

इधर,आरजेडीकेदलितविधायकोंकेप्रेसकॉन्फ्रेंसपरहमलाबोलतेहुएजेडीयूनेताऔरबिहारसरकारकेमंत्रीअशोकचौधरीनेकहा,"उदयनारायणचौधरीकोनीतीशकुमारने 2बारविधानसभामेंअध्यक्षबनाया,जीतनराममांझीकोअपनीकुर्सीदेदी,श्यामरजककोलंबेसमयतकमंत्रीबनायेरखा.आजऐसेलोगसीएमनीतीशपरआरोपलगारहेहैं,जिनकीअपनीराजनीतिकीइक्षापूरीनहींहुईतोदलबदलदिया."

उन्होंनेकहा,"देशमेंदलितोंकेसबसेबड़ेहितैसीसीएमनीतीशकुमारहैं.पूरेदेशमेंबिहारमेंसबसेज्यादादलितोंकेलिएकामहुआहै.हिम्मतहैतोआंकड़ोंपरबहसकरलें.कल्याणविभागकाबजट40करोड़सेबढ़ाकर1600करोड़कियागया.2007मेंपहलीबारSCSTविभागबनायागया.2008मेंमहादलित विकासमिशनबनायागया.सीएमनीतीशकुमारनेदलितोंकोपंचायतीराजमेंआरक्षणदिया. दलितछात्रोंकोस्टूडेंटक्रेडिटकार्डदियागया.SC-STछात्रोंकेस्कॉलरशिपको72.71करोड़सेबढ़ाकर428करोड़कियागया."