आजाद उम्मीदवार भी बिगाड़ सकते हैं राजनीति का खेल

जागरणसंवाददाता,कुरुक्षेत्र:विधानसभाचुनावकीरणभेरीबजनेकेबादचाय-पानकीदुकानों,चौपालोंऔररेस्तरांपरचुनावीचर्चाचरमपरहै।केंद्रबिदुमेंभाजपा,कांग्रेसऔरप्रादेशिकपार्टियोंकेअलावाआजादउम्मीदवारकेराजनीतिकदांव-पेंचप्रमुखहैं।दैनिकजागरणकीटीमशनिवारकोब्रह्मासरोवरस्थितचायकीदुकानोंवरेस्तरांमेंजायजालेनेपहुंचीतोलोगचुनावीचर्चाओंमेंमशगूलदिखे।यहदेखकरदैनिकजागरणकीटीमभीउसबातचीतमेंशामिलहोगई।

चायकीचुस्कीलेतेहुएबातकररहेयुवाओंनेकहाकिमौजूदासरकारनेबहुतकामकिए।चुनावमेंभाजपा,कांग्रेसवआजादउम्मीदवारमजबूतस्थितिमेंएक-दूसरेकोटक्करदेतेहुएनजरआरहेहैं।इसीचर्चामेंशामिलतिरेशशर्मानेकहाकिराजनीतिकसमीकरणबार-बारबदलरहेहैं।अभीमतदानहोनेमेंकईदिनबाकीहैं।इसबीचकईबारसमीकरणबदलेंगेऔरबिगड़ेंगे।थानेसरसीटपरकड़ीटक्करदिखाईदेरहीहै।इतनेमेंचायकीएकचुस्कीलेतेहुएरामदयालनेकहाकिआजादउम्मीदवारभीअपनेक्षेत्रमेंराजनीतिकाखेलबनाऔरबिगाड़सकतेहैं।गांवोंमेंजोप्रत्याशीमजबूतहोगाउसीकीकश्तीमझधारमेंकिनारेलगपाएगी।इसलिएप्रत्याशीएकदूसरेकोकामनहींआंकरहेऔरमिनटटूमिनटकार्यक्रमरखेजारहेहैं।इतनेमेंदूसरेलोगोंकीबातकोकाटतेहुएहरीशबोलादेखलेनाइसबारफिरवापसीहोगीऔरदेशवप्रदेशकोसशक्तबनानेवालीसरकारसामनेआएगी।बातचीतमेंशामिलहरीशऔरसुरेशनेकहाकिमतदाताओंकेहाथमेंपांचसालबादमौकाआताहै,जबमतदाताओंकोबोलनेकामौकामिलताहै।इसबारचुनावकेपरिणामचौंकानेवालेहोंगे।हरकोईअपनीजीतकोपक्काबतारहाहै।जोलोगपरिवर्तनकीबातकहरहेहैंलोकसभाचुनावकापरिणामदेखलें।जनतामेंकुछविश्वासजगाहैयहविश्वासऔरपक्काहोगा।लोगोंनेकिसेसत्तासौंपनीहैइसकेबारेमें70प्रतिशतमतदातामनबनाचुकेहैं,30प्रतिशतमतदाताहीहो-हल्लामचारहेहैं।राजनीतिकीचायमेंचर्चाओंकाउबाल

ब्रह्मासरोवरपरशहरकेअलावाप्रदेशभरसेपर्यटकघूमनेकेलिएआतेहैं।यहांपरचायकीदुकानोंपरबैठेलोगराजनीतिकचूल्हेपरचायकोउबालरहेहैं।लोगयहांपरआकरएकदूसरेविधानसभाक्षेत्रकीस्थितिकोपताकरनेमेंखूबरुचिदिखारहेहैं।चायकेसाथ-साथपिछलेपांचसालऔरअगलेपांचसालकाब्यौराभीएकदूसरेकोबातोंहीबातोंमेंदेतेहैं।चायपरचर्चाकरतेहुएलोगतमामसमीकरणोंकोबनातेऔरबिगाड़रहेहैं।