5 दिनों में 8 विधेयक पास हुए, इनमें 3 यूनिवर्सिटी के, इसलिए याद रखा जाएगा यह सत्र; राबड़ी देवी एक दिन भी नहीं आईं

बिहारविधानमंडलकेमॉनसूनसत्रकासमापनअनिश्चितकालकेलिएहोगया।बातउच्चसदनयानीविधानपरिषद्कीकरेंतोयहांपहलेदिनकीशुरुआतविपक्षकेविरोधप्रदर्शनसेहुआ।मुंहपरकालामास्कलगाकरविपक्षकेपार्षदआए।यहविरोधबजटसत्रमेंविपक्षीविधायकोंकेसाथहुएदुर्व्यवहारकेविरोधमेंहुआ।जातीयजनगणनाकीमांगयहांभीहुई।भाजपाकेपार्षदऔरपूर्वकेन्द्रीयमंत्रीसंजयपासवाननेकहाकिजातीयजनगणनाकीअबकोईजरूरतदेशमेंनहींहै।जितनाआरक्षणपिछड़ी,अतिपिछड़ीजातियोंऔरसवर्णोंकोमिलनाथामिलरहाहैइसलिएअबजातीयजनगणनाकीजगहगरीबोंकीगणनाकीजरूरतहै।

सबसेदिलचस्पयहकिबढ़तीमहंगाईपरविपक्षकीओरसेकांग्रेसकेपार्षदप्रेमचंदमिश्रानेसवालकियाऔरमांगकीकिसरकारपेट्रोलऔरडीजलपरलगाएजानेवालेटैक्समेंछूटदे।सरकारकीओरसेजवाबदियागयाकिइसटैक्समेंइसलिएछूटनहींदीजासकतीकिसरकारपरपहलेसेहीकोविडमहामारीकेकारणआर्थिकभारबढ़ाहुआहै।दोपेजकेजवाबमेंसरकारनेकहाकितेलकीबढ़तीकीमतोंकाअसरखाद्यपदार्थोंपरपड़तानहींदिखता।

तीनविश्वविद्यालयोंकीस्थापनाकेलिएयादरहेगासत्र

यहसत्रसबसेअधिकइसलिएयादकियाजाएगाकितीननएविश्विद्यालयकेलिएविधेयकपासहुए।येविश्वविद्यालयइंजीनियरिंग,मेडिकलऔरखेलविश्वविद्यालयहोंगे।सबसेबड़ीबातयहकिइनतीनोंकेकुलाधिपतिराज्यपालनहींबल्किमुख्यमंत्रीहोंगे।

चर्चामेंरहास्वास्थ्यमंत्रीकाबयान

विधानपरिषद्मेंस्वास्थ्यमंत्रीकायहबयानचर्चामेंरहाजिसमेंउन्होंनेकहाकिकोविडकालमेंऑक्सीजनकीकमीयाउपकरणोंकीकमीसेकिसीकीमौतनहींहुई।जलजमावकीबातनिकलीतोपटनाकीतुलनामुंबईसेकरदीगई।पार्षदडॉ।संजीवकुमारसिंहनेराज्यकेसरकारीऔरसबंद्धमाध्यमिक,उच्चमाध्यमिककेसाथडिग्रीशिक्षणसंस्थानोंमेंछात्र-छात्राओंकीसंख्याबढ़ानेकीमांगकीतोप्रभारीमंत्रीअशोकचौधरीसेउनकीतीखीझड़पहोगई।

लालूप्रसादकेबीमारहोनेकीवजहसेराबड़ीदेवीनहींआईं

विपक्षीसदस्योंमेंराजदकेरामचंद्रपूर्व,सुनीलकुमारसिंह,मो।फारूखऔरकांग्रेसकेमदनमोहनझा,प्रेमचंदमिश्रावसमीरसिंहदिखे।लेफ्टसेकेदारनाथपांडेयऔरसंजयकुमारसिंहदिखे।उच्चसदनमेंराजदकीनेताराबड़ीदेवीइससत्रमेंएकभीदिनसदनमेंनहींआई।जबसेलालूप्रसादयादवअस्पतालसेअपनीबेटीमीसाभारतीकेआवासपरआएहैंतबसेहीराबड़ीदेवीलगातारदिल्लीमेंरहरहीहैं।लालूप्रसादकेखराबस्वास्थ्यकीवजहसेहीवेसदनमेंनहींआपाईं।

विधानसभामें5दिनोंमेंक्या-क्याहुआ

इधरविधानसभामेंइसमानसूनसत्रमेंशून्यकालकेमाध्यमसेअनेकजनहितकेमामलेउठाएगए,विभिन्नविभागोंकेप्रतिवेदन,नियमावली,अधिसूचनाकीप्रतिऔरबिहारविधानसभाकेसमितिकेप्रतिवेदनसदनपटलपररखेगए।इससत्रकेदौरान33जननायकोंएवंकोरोनामहामारीसेराज्यतथादेशकेकईलोगोंकेसाथ-साथदूसरोंकीजिंदगीबचानेवालेबिहारकेलगभग115चिकित्सकोंऔरअनेककोरोनायोद्धाओंकेअसमयकाल-कल्वितहोजानेपरउनकेप्रतिशोकव्यक्तकियागया।इसमानसूनसत्रमेंआठविधेयकपासकिएगए।येहैं-

विधानपरिषद्को189सूचनाएंप्राप्तहुईं,विधानसभामें822प्रश्नआए

सदनमेंसरकारकीओरसेबतायागयाकिकोविडकालमें693शिक्षकोंकीमौतहुईहै।उच्चसदनमेंउठाएगएविभिन्नसवालोंकीबातकरेंतोकुल183सूचनाएंप्राप्तहुईं।इनमेंसे160प्रश्नोंकोस्वीकृतिदीगई।कुल75प्रश्नउत्तरितहुए।सभापतिअवधेशनारायणसिंहनेकहाकिवर्तमानसत्रकेलंबितप्रश्नोंकोआगामीसत्रमेंसदनकीमेजपरकरनेकेलिएसरकारसेअनुशंसाकीगईहै।इससत्रमेंविधानपरिषद्केअंदरध्यानाकर्षणकीकुल38सूचनाएंप्राप्तहुईं।20ध्यानाकर्षणसूचनाएंसदनकेकार्यक्रमपरलाएजानेकेलिएस्वीकृतकीगई।इनसभीसूचनाओंकेउत्तरदिएगए।शून्यकालकीकुल39सूचनाएंप्राप्तहुईंजिनमंसे38सूचनाओंकेमाध्यमसेसरकारकाध्यानखींचागया।निवेदनकीकुल44सूचनाएंप्राप्तहुईं।सभीकोनिवेदनसमितिकोदेदियागयाहै।

इससत्रमेंविधानसभामेंकुल822प्रश्नप्राप्तकिएगए।इन822प्रश्नोंमेंकुल18अल्पसूचितप्रश्नथे,जिसमें16केउत्तरप्राप्तहुए।608तारांकितप्रश्नस्वीकृतहुए,जिसमें566केउत्तरप्राप्तहुएसाथही153प्रश्नऔरअतारांकितहुएइनमेंसे35केउत्तरप्राप्तहुए।

इससत्रमेंकुल103ध्यानाकर्षणसूचनाप्राप्तहुई,जिनमेंसेआठवक्तव्यकेलिएस्वीकृतहुएतथा89सूचनाएंलिखितउत्तरहेतुसंबंधितविभागोंकोभेजेगएथे।6ध्यानाकर्षणकोअमान्यकरारदियागया।इससत्रमेंकुल122निवेदनप्राप्तहुए,जिसमें121स्वीकृतहुए,एकअस्वीकृतहुए।कुल65याचिकाएंप्राप्तहुएजिनमें62स्वीकृतहुए,चारऔरअस्वीकृतहुए।