«मूल क खेत कैसे क जत है »

सूत्र के मुताबिक, राहुल गांधी ने सभी राज्य अध्यक्षों से तीनों मुद्दों पर सरकार को मजबूती से घेरने को कहा है। राहुल गांधी ने बैठक में कहा कि उन्होंने पहले ही देश में संकटों के बारे में चेतावनी दी थी, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस पर ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि चाहे वह देश की बिगड़ती आर्थिक स्थिति हो या कोरोना वायरस का प्रकोप, प्रधानमंत्री का रवैया देश की मौजूदा स्थिति के लिए जिम्मेदार है क्योंकि उन्होंने किसी भी समस्या को गंभीरता से नहीं लिया और समय पर सही निर्णय नहीं लिया।

देश के गोदाम अनाज से भरे हैं तो सरकार भूख से

नयीदिल्ली,21अक्टूबर(भाषा)कांग्रेसकेपूर्वअध्यक्षराहुलगांधीनेदेशमेंकुछलोगोंकीकथिततौरपरभूखसेमौतहोनेकादावाकरतेहुएबुधवारकोकहा

इंडिया टुडे वूमन समिट एंड अवार्ड: जिम्मेदारी

एकहास्यकलाकार,एकट्रांसजेंडरजिसेअपनीसटीकराजनैतिकटिप्पणियोंपरमिलनेवालेउलाहनोंकीकोईपरवाहनहींऔरएकमंत्री,जोकड़वीबातेंभीइतनीकुश

कोरोना काल में जनता के दर्द को भूलकर सत्ता बच

प्रदेशकीकांग्रेसपार्टीमेंचलरहीगुटबाजिकघमासानपरभाजपाकेप्रदेशमुख्यप्रवक्ताऔरचौमूंसेविधायकरामलालशर्माकाबयानसामनेआयाहै।शर्मा